Welcome, Guest. Please login or register.

Username: Password:
Pages: [1]   Go Down

Author Topic: For Men by Men  (Read 653 times)

gursharn

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 70
    • View Profile
For Men by Men
« on: April 25, 2017, 02:03:13 PM »

When it comes to men's personal health,
we men are like ostriches
we bury our heads in the sand and hope the problem goes away
Logged


Daman4Men

  • Administrator
  • Newbie
  • *****
  • Posts: 10
    • View Profile
Re: For Men by Men
« Reply #1 on: April 26, 2017, 11:12:43 AM »

पुरुष से उसकी कमाई कभी मत पूछिए
क्योंकि वह अपने लिए कभी नहीं कमाता
Logged

gursharn

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 70
    • View Profile
Re: For Men by Men
« Reply #2 on: May 03, 2017, 01:55:43 PM »

जहर काफी है जरा सा, मरने के लिए
मर्द फिर भी जिंदा है सारे परिवार का दर्द समेट कर
Logged

gursharn

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 70
    • View Profile
Re: For Men by Men
« Reply #3 on: May 03, 2017, 01:56:52 PM »

राह संघर्ष की मर्द जो चलता है,
तो ही संसार को बदलता है ।
उसनेे रातों से जंग जीती है,
सूर्य बनकर वही निकलता है !
Logged

gursharn

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 70
    • View Profile
Re: For Men by Men
« Reply #4 on: May 04, 2017, 01:19:08 PM »

अभी गनीमत है सब्र मेरा, अभी लबालब भरा नही हूँ
वो मुझको मुर्दा समझ रहा है, उसे कहो पुरुष अभी मरा नही है
Logged

gursharn

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 70
    • View Profile
Re: For Men by Men
« Reply #5 on: May 04, 2017, 01:23:07 PM »

माना की बदल गया है ज़माने का अंदाज़ वक़्त के साथ
मगर पुरुष की जिम्मेदारियों का बोझ आज भी वहीँ  है
Logged
Pages: [1]   Go Up